Tulsi Aarti जय-जय तुलसी माता। सब जग की सुख दाता, वर दाता॥ जय-जय .. सब योगों के ऊपर, सब रोगों के ऊपर। रुज से रक्षा करके भव द्दाता॥ जय-जय .. बहु पुत्री हे श्यामा, सुर बल्ली हे ग्राम्या। विष्णु प्रिये जो तुमको सेवे, सो नर तर जाता॥ जय-जय .. हरिRead More →

Naina Devi Aarti तेरा अद्भुत रूप निराला, आजा मेरी नैना माई। तुझ पै तन–मन–धन सब वारूँ आजा मेरी माई॥ सुन्दर भवन बनाया तेरा, तेरी शोभा न्यारी, नीके–नीके खम्बे लागे, अद्भुत चित्तर कारी। तेरे रंग बिरंगा द्वारा॥ आजा.. झांझा और मिरदंगा बाजे और बाजे शहनाई, तुरई नगाड़ा ढोलक बाजे, तबला शब्दRead More →

Shani-dev-ki-aarti-image-HD

Shani Dev ji Ki Aarti in Hindi English: On Shanivaar or Saturday, Shani Dev is worshiped with Vart, Chalisa and aarti. Shani dev aarti is chanted in evening puja with Loha ( iran), Til, Teel ( oil ), Sweet, Ugad dal ( black pulses ), flowers, Diya (lamps). Shani Dev jiRead More →

Kali Mata Aarti अंबे तू है जगदंबे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली । तेरे ही गुण गाएं भारती,ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ।। तेरे भक्त जनों पे माता, भीर पड़ी है भारी । दानव दल पर टूट पड़ो मां, करके सिंह सवारी ॥ सौ सौ सिंहो से हैRead More →

Gayatri mata ji ki Aarti जयति जय गायत्री माता, जयति जय गायत्री माता। आदि शक्ति तुम अलख निरंजन जगपालक कत्री॥ जयति .. दु:ख शोक, भय, क्लेश कलश दारिद्र दैन्य हत्री। ब्रह्म रूपिणी, प्रणात पालिन जगत धातृ अम्बे। भव भयहारी, जन–हितकारी, सुखदा जगदम्बे॥ जयति .. भय हारिणी, भवतारिणी, अनघेअज आनन्द राशि।Read More →

Saraswati Devi Aarti जय सरस्वती माता ,जय जय हे सरस्वती माता । दगुण वैभव शालिनी ,त्रिभुवन विख्याता ॥ जय सरस्वती माता….. चंद्रवदनि पदमासिनी, घुति मंगलकारी । सोहें शुभ हंस सवारी,अतुल तेजधारी ॥ जय सरस्वती माता….. बायेँ कर में वीणा, दायें कर में माला । शीश मुकुट मणी सोहें ,गल मोतियनRead More →

Maa Chintpoorni  Chalisa Doha Neno mai basti chavi durge nena maat | Pratha kaal Simran karu hai jag ki vikhyat || Sukh vaibhav sab apke chardo ka pratap | Mamta apni dijiye mai balak karu jaap || Chopai Namaskar hai nena mata | din dukhi ki bhagya vidhata || ParvatiRead More →