Mata Chintpurni Aarti:

The temple dedicated to Mata Chintpurni Devi is located in District Una of Himachal Pradesh. Mata Chintpurni Devi is also known as Mata Shri Chhinnamastika Devi. Devotees have been visiting this Shaktipeeth for centuries to pray at the lotus feet of Mata Shri Chhinnamastika Devi.

mata Chintpurni Aarti

चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
जान को तरो भोली मा जान को तरो भोली मा
काली दा पुत्रा पवन दा घोड़ा |
सिंह पर भाई अस्वार, भोली मा ||
चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
एक हाथ खड़ाग, दूजे मे खंडा |
टीजे त्रिशूल संभलो, भोली मा ||
चिंतपूर्णी चिंता डोर करनी
चौथे हाथ चक्कर गाड़ा |
पाँचवेछठे मुंडो की माला, भोली मा |
चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
सातवे से रूणड मूंद विडरे |
आठवे से असुर संहारो, भोली मा ||
चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
चंपे का बाग लगा आती सुंदर |
बैठी दीवान लगाए, भोली मा ||
चिंतपूर्णी चिंता डोर करनी
हरी ब्रम्हा तेरे भवन विराजे |
लाल चंडोया बैठी तां, भोली मा ||
चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
आवूखी घाटी विक्ता पैंदा |
तले बहे दरिया, भोली मया ||
चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी
सुमन चरण ध्यानू जस गेव |
भक्तां दी पाज निभाओ, भोली मा ||
चिंतपूर्णी