Vrat Kathayen

कामदा एकादशी व्रत कथा / Kamda Ekadashi Vrat Katha

पुराणों में इसके विषय में एक कथा मिलती है। प्राचीनकाल में भोगीपुर नामक एक नगर था। वहाँ पर अनेक ऐश्वर्यों से युक्त पुण्डरीक नाम का एक राजा राज्य करता था।…
Continue Reading
Vrat Kathayen

शुक्रवार व्रत कथा / Shukarvaar Vrat Katha

एक बुढिय़ा थी, उसके सात बेटे थे। छह कमाने वाले थे। एक निक्कमा था। बुढिय़ा मां छहो बेटों की रसोई बनाती, भोजन कराती और कुछ झूटन बचती वह सातवें को…
Continue Reading
Vrat Kathayen

सोलह सोमवार व्रत कथा / Solah Somvaar Vrat Katha

मृत्यु लोक में विवाह करने की इच्छा करके एक बार श्री भगवान शिवजी माता पार्वती के साथ पधारे वहाँ वे भ्रमण करते-करते विदर्भ देशांतर्गत अमरावती नाम की अतीव रमणीक नगरी…
Continue Reading
Vrat Kathayen

रविवार व्रत कथा / Ravivaar Vrat Katha

एक बुढ़िया का नियम था प्रति रविवार को प्रातः स्नान कर, घर को गोबर से लीप कर, भिजन तैयार कर, भगवान को भोग लगा कर, स्वयं भोजन करती थी. ऐसा…
Continue Reading